व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी

व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं | हम देखते ही की जवानी में हर किसी को बॉडी बिल्डिंग का शौक होता है, लेकिन बॉडी बिल्डिंग करने से ही बॉडी बनती है ऐसा नहीं होता है | बॉडी बनाने के लिए आपको ढेर सारी मेहनत करनी पड़ती है, कुछ जवान लड़कों को लगता है कि व्हे प्रोटीन का सेवन करने से ऑटोमेटिक बॉडी बनती है | लेकिन दोस्तों ऐसा नहीं होता है, बॉडी मजबूत बनाने के लिए वर्कआउट जितना महत्वपूर्ण होता है उतना महत्वपूर्ण सप्लीमेंट होता है | बिना वर्क आउट करें बगैर अगर आप सिर्फ सप्लीमेंट का सेवन करते रहोगे तो इन सप्लीमेंट का रूपांतरण फैट और कैलोरी में होगा, जिससे आपके शरीर को और आपके मसल्स को किसी प्रकार का फायदा नहीं होगा |

व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी
व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी

इसलिए व्हे प्रोटीन क्या है, व्हे प्रोटीन क्या काम करता है इन सारी बातों को ध्यान में लेते हुए व्हे प्रोटीन का सेवन करना चाहिए | आज हम देखेंगे व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी |

loading...

व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी -:

व्हे प्रोटीन कैसे बनाया जाता है -:

  • सबसे पहले व्हे प्रोटीन पाउडर कैसे बनाया जाता है यह हम देखेंगे | दही से जो भी चीजें बनाते हैं, उन चीजों को बनाने के बाद जो पानी बचता है उस पानी से व्हे प्रोटीन बनाया जाता है | जिस पानी से व्हे प्रोटीन बनाया जाता है उस पानी में बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं | व्हे प्रोटीन बनाने के लिए इस पानी को प्रोसेस करना पड़ता है |
  • दही के पानी से व्हे प्रोटीन को बनाने के लिए सबसे पहले इस पानी से पूरा प्रोटीन बाहर निकाला जाता है, जिसे हम व्हे प्रोटीन कहते हैं | बॉडी बिल्डिंग के टॉप १० सप्लीमेंट में व्हे प्रोटीन का स्थान अग्रसर है | बॉडी बनाने के लिए हमारे शरीर को ढेर सारा प्रोटीन लगता है, व्हे प्रोटीन शरीर के मसल को प्रोटीन प्रदान करता है, जिससे हमारे मसल्स बिल्ड होने लगते हैं |

कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन -:

  • आमतौर पर देखा जाए तो व्हे प्रोटीन के ३ प्रकार होते हैं | सबसे पहले आता है कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन, कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन में तकरीबन ८०% पूरी तरह से प्रोटीन होता है | कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन थोड़ी मात्रा में सस्ता होता है | कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन में लैक्टोज की मात्रा कम होती है | जिन लोगों को दूध पीने से दिक्कत होती है उन लोगों ने कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन का सेवन करना चाहिए |
  • बॉडी बिल्डिंग करने के लिए शारीर को कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत नहीं होती है, जिसके कारण कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन से कार्बोहाइड्रेट्स और फैट निकाले जाते हैं | जिन लोगों को प्रोफेशनल बॉडीबिल्डिंग करनी होती है उनके लिए कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन बिल्कुल सही होता है | कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन बॉडी बिल्डिंग करने के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है | क्योंकि व्हे प्रोटीन में कैलोरी कम होती है और प्रोटीन ज्यादा होता है |
  • बॉडी बिल्डिंग के शुरुआती में कंसंट्रेट में पॉलिथीन का इस्तेमाल करना बिल्कुल सही होता है | लेकिन जैसे-जैसे आपकी बॉडी बनने लगती है वैसे वैसे आपके बॉडी को व्हे प्रोटीन की आवश्यकता होती है | इसलिए जब तक आपकी बॉडी मस्कुलर नहीं बनती है तब तक कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन का सेवन करें और जब आपकी बॉडी ठीक-ठाक मस्कुलर बन जाएगी तब आपको अलग व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल करना पड़ेगा |

आइसोलेट व्हे प्रोटीन -:

  • बॉडी बिल्डिंग करने के लिए जो भी व्हे प्रोटीन आप सेवन करोगे उससे आपके शरीर को पूरी तरह से प्रोटीन ही मिलने वाला है | इसलिए कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन में और आइसोलेट में प्रोटीन में ज्यादा कोई फर्क नहीं है | आइसोलेट प्रोटीन में तकरीबन ९०% प्रोटीन होता है जिससे आपके बॉडी को उचित मात्रा में प्रोटीन मिलता है और आपके बॉडी के मसल्स बनने लगते हैं |
  • जिम बॉडी बिल्डर्स को लीन बॉडी शेप चाहिए होता है उन बॉडीबिल्डर ने आइसोलेटेड प्रोटीन का इस्तेमाल करना चाहिए | आइसोलेट प्रोटीन इस्तेमाल करते समय अगर आप दूध के साथ या पानी के साथ इसका सेवन करोगे तो सबसे पहले आपके जिम ट्रेनर से पूछ लें | क्योंकि बहुत सारे लोग आइसोलेट प्रोटीन को सिर्फ पानी के साथ ही लेते हैं, क्योंकि पानी के साथ व्हे प्रोटीन लेने से व्हे प्रोटीन का डाइजेशन शरीर में जल्द से जल्द होता है और आपके मसल्स को प्रोटीन जल्द से जल्द मिलता है |

ब्लेंड व्हे प्रोटीन -:

  • ब्लेंड व्हे प्रोटीन की प्रोसेस देखी जाए तो कंसंट्रेट व्हे प्रोटीन, आइसोलेट व्हे प्रोटीन को मिलाकर इस प्रोटीन को बनाया जाता है | ऊपर दिए गए दोनों व्हे प्रोटीन के मुकाबले में यह व्हे प्रोटीन सस्ता होता है, इस प्रोटीन में प्रोटीन की मात्रा थोड़ी कम होती है लेकिन जो लोग बॉडी बिल्डिंग करने की शुरुआती में है वह इस व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल कर सकते हैं |
  • कई बार लोगों को सवाल होता है कि हंड्रेड परसेंट व्हे प्रोटीन क्या होता है | जिस प्रोटीन में फैट, कार्बोहाइड्रेट्स ना हो सिर्फ प्रोटीन की मात्रा ज्यादा हो उस प्रोटीन को हम हंड्रेड परसेंट व्हे प्रोटीन कह सकते हैं | प्रोटीन सप्लीमेंट इस्तेमाल करते समय हमेशा जान ले कि प्रोटीन सप्लीमेंट कितनी बार और कब सेवन करना है जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा अच्छा रिजल्ट मिलेगा |

व्हे प्रोटीन पाउडर के नुकसान -:

  • सच्चे दिल से कहा जाए तो व्हे प्रोटीन पाउडर के कोई नुकसान नहीं होते हैं | व्हे प्रोटीन पाउडर बॉडी बिल्डिंग करने के लिए बहुत ही उपयुक्त होते हैं | क्योंकि ऐसे कोई प्राकृतिक चीजें नहीं है जिनके जरिए हमें तुरंत प्रोटीन की मात्रा मिल सके | व्हे प्रोटीन का सेवन करने से तुरंत आपके शरीर को प्रोटीन मिलता है, कई बार लोगों का कहना होता है कि व्हे प्रोटीन का सेवन करने से पेट फूलने लगता है, ज्यादा भूख नहीं लगती है, ज्यादा पानी पीने का मन होता है, सिर दर्द होता है |
  • दोस्तों देखा जाए तो हर किसी का शरीर अलग-अलग होता है, व्हे प्रोटीन का सेवन करने से अगर आपको भी कुछ समस्या आती है तो आपने डॉक्टर से बात करना चाहिए | लेकिन व्हे प्रोटीन बॉडी बिल्डिंग करने के लिए बिल्कुल सही होता है | व्हे प्रोटीन को खरीदने से पहले नकली सप्लीमेंट जांच लें, क्योंकि बहुत सारे नकली व्हे प्रोटीन बाजार में बिके जाते है |

यह थी व्हे प्रोटीन पाउडर के बारे में पूरी जानकारी | दोस्तों अगर आपको हमें कोई सवाल पूछना है तो आप हमें नीचे दिए गए हुए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *