प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं

प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं

नमस्ते दोस्तों आज हम आपको प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं के बारेमे जानकारी देने वाले है | महिला जब प्रेग्नेंट होती है तब वह बिल्कुल भी नाजुक अवस्था में रहती है प्रेग्नेंट महिला ने खुद की बहुत ज्यादा निगाह रखनी चाहिए, प्रेग्नेंट महिला के साथ-साथ उसके फैमिली वालों ने भी प्रेग्नेंट महिला की निगाह रखनी चाहिए | अगर आप इस वक्त प्रेग्नेंट महिला की निगाह नहीं रखोगे तो इसका बुरा असर पड़ सकता है | हमारे घर में जो भी बुजुर्ग लोग होते हैं वह हमेशा प्रेग्नेंट महिला को कोई ना कोई सजेशन देते ही रहते हैं, और हां यह सजेशन बिल्कुल सही भी होते हैं, बहुत सारी महिलाएं बुजुर्ग लोगों ने कुछ सजेशन देने पर गुस्सा हो जाती है| लेकिन आपने ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए अगर आप ऐसा करोगी तो इसका गलत असर आपके बच्चे पर भी हो सकता है| आपने हमेशा सही तरीके अपनाकर बच्चे की और खुद की निगाह रखनी चाहिए|

प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं
प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं

अगर आपको प्रेगनेंसी में कोई दिक्कत होती हो तो आपने यह बात आपके पति से या आपके सांस से जरूर शेयर करनी चाहिए | अगर आप कोई बात किसी से शेयर नहीं करती हो तो परेशानी भी हो सकती है | इसलिए प्रेगनेंसी में आपने खुद का ख्याल और आपके बच्चे का ख्याल रखना ही चाहिए, आज हम आपसे प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं इस बहुत ही इंपॉर्टेंट टॉपिक पर बात करने वाले हैं | आप यह सब तरीके अपनाओगे तो आपको और आपके बच्चे को ९ महीने तक कोई भी समस्या नहीं आएगी इसकी हम आपको गारंटी देते हैं| इसलिए आज हम देखेंगे प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाए के बारे मे |

loading...

प्रेगनेंसी में क्या खाएं और क्या ना खाएं -:

प्रेगनेंसी डाइट इन हिंदी -:

प्रेगनेंसी डाइट इन हिंदी
प्रेगनेंसी डाइट इन हिंदी
  • प्रेग्नेंट महिला जो कोई पदार्थ खाती है उसका असर पेट में पल रहे बच्चे पर होता है, अगर आप यह बात हमेशा ध्यान में रखोगे तो बहुत ही अच्छा साबित हो सकता है | अगर आप किसी मसालेदार पदार्थ का सेवन कर लेती हो तो इसका गलत असर आपके शरीर पर और आपके बच्चे के सेहत पर तुरंत पड़ सकता है |
  • इसलिए आपने हमेशा ऐसे पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिससे आपको और आपके बच्चे को कोई भी परेशानी का सामना ना करना पड़े, बहुत सारी महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान कुछ ना सोचें कोई भी चीजे खा लेती है | अक्सर आप हमेशा ऐसा करोगी तो आपके बच्चे की जान भी जा सकती है |
  • प्रेगनेंसी के बाद आपकी और आपके बच्चे की दोनों की जान आपके फैमिली के लिए बहुत ज्यादा मायने लगती है, इसलिए प्रेगनेंसी के वक़्त आपने अच्छा डाइट फॉलो करना चाहिए | प्रेगनेंसी का डाइट फॉलो करते समय आपने कोई भी कच्चे पदार्थ का सेवन करना नहीं चाहिए |
  • जब आप कोई कच्चे पदार्थ का सेवन करते हो तब आपके डाइजेस्टिव सिस्टम को वह पदार्थ डाइजेस्ट करने में बहुत ज्यादा वक्त भी लग सकता है |
  • अगर कोई पदार्थ का सेवन करने से आपके बच्चे को पूरी तरह से एनर्जी नहीं मिली तो आपके बच्चे की ग्रोथ अच्छी तरह से नहीं हो पाती है | इसलिए यह बात आपने हमेशा ध्यान में रखना चाहिए, ऐसी छोटी-छोटी बहुत सारी बातें हैं जो आपने हमेशा ध्यान में रखना चाहिए क्योंकि प्रेगनेंसी के ९ महीने बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होते है |
  • प्रेगनेंसी का डाइट फॉलो करते वक्त आपने समुद्री पदार्थो का आपके भोजन में ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना चाहिए| जैसे कि अगर आप मरक्यूरी का अधिक मात्रा में सेवन करोगी तो यह आपके लिए और आपके बच्चे के सेहत के लिए अच्छा होता है |
  • समुद्री पदार्थो का ज्यादा से ज्यादा सेवन करने से आपके शरीर को ओमेगा ३ फैटी एसिड मिलता है जो आपके बच्चे के ग्रोथ के लिए अच्छा होता है |
  • समुद्री पदार्थों का सेवन करना मतलब आपने समुद्र के कोई भी पदार्थ खाने चाहिए ऐसा नहीं होता है, आपने प्रेगनेंसी के दौरान कभी भी मच्छी का सेवन नहीं करना चाहिए | क्योंकि मछली में कांटे होते हैं यह हम सबको पता है, अनजाने में अगर कोई मछली का कांटा आपके पेट में चला गया तो आपके बच्चे पर भी यह परिणाम कर सकता है |
  • इसलिए आपने प्रेगनेंसी के ९ महीने तक ओमेगा ३ फैटी एसिड का सेवन करना है लेकिन मछली का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए|

प्रेगनेंसी में क्या सेवन करना चाहिए -:

प्रेगनेंसी में क्या सेवन करना चाहिए
प्रेगनेंसी में क्या सेवन करना चाहिए
  • प्रेगनेंसी के वक्त आपने सॉफ्ट पदार्थों का सेवन करना चाहिए, सॉफ्ट मतलब जो पदार्थ डाइजेस्ट होने के लिए आसन ज्यादा है उन पदार्थों का आपने सेवन करना चाहिए | प्रेगनेंसी के दौरान सुबह आपने नाश्ते में वड़ा पाव, कचोरी, समोसा, इन जैसे पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए |
  • इन पदार्थों की जगह आपने फलों का सेवन करना चाहिए, आप जितना फलों का सेवन करोगे उतना ही आपके शरीर को और आपके बच्चे को कार्बोहाइड्रेट्स मिलेंगे | कार्बोहाइड्रेट्स आपके बच्चे के लिए असरदार होते हैं, क्योंकि कार्बोहाइड्रेट्स का ज्यादा सेवन करने से आपके शरीर की ग्रोथ अच्छी होती है | फलो के साथ आपने हरी सब्जियों का भी सेवन करना चाहिए |
  • हरी सब्जियों में प्रोटीन, विटामिन, और कार्बोहाइड्रेट अच्छी मात्रा में होते हैं, हरी सब्जियों में ऐसे बहुत तत्व होते हैं जो आपकी डाइजेस्टिव सिस्टम सुधार सकते हैं | इसलिए फलों के साथ-साथ आपने हरी सब्जियों का भी सेवन करना चाहिए, अगर आप मांसाहारी हो तो आपने प्रेगनेंसी के चलते ज्यादा मांसाहार नहीं करना चाहिए |
  • ज्यादा मांसाहार करने से आपके शरीर में पोइजन भी तैयार हो सकता है | अगर आप धुम्रपान, सिगरेट, या शराब का इस्तेमाल करती हो तो आपने शराब का इस्तेमाल तो बिल्कुल नहीं करना चाहिए | शराब डाइजेस्ट होने में बहुत ज्यादा गर्म होती है, इसलिए शराब का सेवन ना करें |

गर्भावस्था के दौरान पानी का ज्यादा सेवन करें -:

गर्भावस्था के दौरान पानी का ज्यादा सेवन करें
गर्भावस्था के दौरान पानी का ज्यादा सेवन करें
  • सबसे महत्वपूर्ण, गर्भावस्था के दौरान आपने ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए | ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करने से आपके शरीर में जो भी टॉक्सिक एलिमेंट्स होते हैं वह आसानी से बाहर निकलने में मदद होती है | शरीर में ज्यादा देर तक टॉक्सिक एलिमेंट्स रहने से शरीर को बेचैन सी फील होती है |
  • इसलिए ज्यादा मात्रा में पानी का सेवन करें, गर्मी के मौसम में अगर आप प्रेग्नेंट हो तो आपने पानी का बहुत ज्यादा सेवन करना चाहिए | ज्यादा मात्रा में पानी का सेवन करने से आपको बहुत ज्यादा टॉयलेट आती है, पहले पहले आपको टॉयलेट जाने के लिए बिल्कुल इच्छा नहीं होगी लेकिन आपने कभी भी इच्छा के बारे में नहीं सोचना चाहिए |
  • प्रेगनेंसी के दौरान आपने सिर्फ आपके लिए और आपके बच्चे के लिए सोचना चाहिए, क्योंकि आपका बच्चा आपके लिए बहुत इंपोर्टेंट होता है | अगर आपको पानी का सेवन नहीं करना है तो आपने लिक्विड पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जैसे कि पानी की जगह आपने नारियल के पानी का सेवन करना चाहिए |
  • अगर आप नारियल के पानी का भी सेवन नहीं करना चाहती हो तो आपने किसी फल के जूस का सेवन करना चाहिए | फलों के जूस में आपने मैंगो, एप्पल, पाइनएप्पल, इन जैसे फलों का सेवन करना चाहिए जिससे आपके शरीर को प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिंस, मिनरल्स, यह सब पोषक तत्व मिलेंगे और आपका बच्चा और आप हमेशा सही सलामत रहने में मदद होगी | इसलिए पानी का सेवन ज्यादा करें |

प्रेगनेंसी के दौरान फाइबर, कैल्शियम की मात्रा  संतुलित रखें -:

प्रेगनेंसी के दौरान फाइबर, कैल्शियम की मात्रा  संतुलित रखें
प्रेगनेंसी के दौरान फाइबर, कैल्शियम की मात्रा  संतुलित रखें
  • प्रेगनेंसी के दौरान आपके शरीर को खून की बहुत ज्यादा आवश्यकता होती है, खून की आवश्यकता होने पर आपने आर्टिफिशियल गोली का सेवन नहीं करना चाहिए | अगर आप आर्टिफिशियल किसी टैबलेट का सेवन करते हो तो इसका गलत असर भी हो सकता है क्योंकि यह टैबलेट केमिकल से भी बने हुए होते हैं |
  • आपने हमेशा प्राकृतिक तरीके से खून बढ़ाने के प्रयास करने चाहिए, खून बढ़ाने के लिए आपने मछली, ब्रोकली, अंडे, पालक, सोयाबीन, जामुन, इन चीजों का ज्यादा सेवन करना चाहिए जिससे आपके शरीर में खून ज्यादा होगा और आपका बच्चा भी सही तरह से ग्रोथ होगा |
  • आपने आपके भोजन में ज्यादा से ज्यादा फाइबर वाले पदार्थों का भी सेवन करना चाहिए, फाइबर वाली पदार्थों में फ्रूट्स, हरी पत्तेदार सब्जियां, अजवाइन, ब्राउन राइस, खजूर, यह सब चीजें थोड़े थोड़े दिनों में खाने से आपके शरीर में फाइबर का प्रमाण स्थिर रहता है |
  • फाइबर के साथ-साथ आपके शरीर में कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा होनी चाहिए, क्योंकि प्रेग्नेंट वुमन के लिए कैल्शियम की मात्रा पर्याप्त होना बहुत ही जरूरी होता है | कैल्शियम से महिला की हड्डियां और उसके बच्चे की हड्डियां बिल्कुल मजबूत होने में मदद होगी, महिला की हड्डियां मजबूत होने से महिला नॉर्मल डिलीवरी के लिए बिल्कुल सक्षम रहती है |
  • शरीर में कैल्शियम बढ़ाने के लिए आपने हर रोज २ गिलास दूध पीना ही चाहिए, वैसे ही आपने आपके भोजन में ओट्स, दही, बदाम, ऐसी चीजों का भी सेवन करना चाहिए |

प्रेगनेंसी में क्या खाना नहीं चाहिए -:

प्रेगनेंसी में क्या खाना नहीं चाहिए
प्रेगनेंसी में क्या खाना नहीं चाहिए
  • ऐसी बहुत सारी चीजें हैं जिनका आपने गर्भावस्था के दौरान सेवन नहीं करना चाहिए  |इन सब चीजों में सबसे महत्वपूर्ण गर्भावस्था में आपने नशीली पदार्थों का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए, अगर आप शराब पीती हो तो आपने शराब पीना बंद कर देना चाहिए | शराब पीने से आप पर और आपके बच्चों पर गलत असर हो सकता है | गर्भावस्था के दरम्यान आपने पपीता, चीज, इन पदार्थों का भी सेवन नहीं करना चाहिए |
  • पपीते में और छीज में बहुत ज्यादा मात्रा में हिट होती है, अगर आपके शरीर में बहुत ज्यादा हिट हो जाती है तो यह आपको परेशानी का भी हो सकता है | गर्भवती महिलाओं ने चाय, कॉफी, कोल्ड ड्रिंक्स,और सॉफ्ट ड्रिंक्स का सेवन नहीं करना चाहिए | अगर आपको कोल्ड ड्रिंक्स, चाय, या कॉफी का सेवन करने की इच्छा होती हो तो आपने चॉकलेट का सेवन कर लेना चाहिए| आपने चॉकलेट का सेवन ज्यादा भी नहीं करना चाहिए | जिससे आपके शरीर पर कोई गलत परिणाम ना हो, मांसाहारी पदार्थों का सेवन ना करें |

गर्भावस्था में डेयरी उत्पादनों का सेवन करना लाभदायक होता है -:

गर्भावस्था में डेयरी उत्पादनों का सेवन करना लाभदायक होता है
गर्भावस्था में डेयरी उत्पादनों का सेवन करना लाभदायक होता है
  • जिस तरह हमने ऊपर देखा कि प्रेगनेंसी में कौन सा डाइट प्लान फॉलो करना चाहिए उसी तरह हम प्रेग्नेंट महिलाओं को बताना चाहते हैं कि गर्भावस्था के दौरान आपने डेअरी उत्पादनों का ज्यादा सेवन करना चाहिए | गर्भावस्था के दौरान बच्चे के विकास के लिए आपके शरीर में अतिरिक्त प्रोटीन और कैल्शियम होना जरूरी होता है, अतिरिक्त प्रोटीन और कैल्शियम आपको डिलीवरी उत्पादनों का सेवन करने से आसानी से मिलता है |
  • डेअरी उत्पादन में विभिन्न प्रकार के प्रोटीन होते हैं, जैसे की केसीन, प्रोटीन और व्हे प्रोटीन  यह दो प्रोटीन उच्च प्रति के प्रोटीन माने जाते हैं | डेयरी उत्पादन में प्रोटीन के साथ-साथ कैल्शियम, फास्फोरस, विटामिन बी, मैग्नेशियम और जिंक की मात्रा होती है | जिन महिलाओं को दही का सेवन करना अच्छा लगता है उन महिलाओं ने प्रेगनेंसी के दौरान दही का सेवन करना फायदेमंद होता है |
  • दही में उच्च मात्रा में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो प्रोबायोटिक बैक्टीरिया के नाम से जाने जाते हैं | जिन महिलाओं को त्वचा की एलर्जी है उनके लिए प्रोबायोटिक दही विशेष रूप से अच्छी होती है |
  • जिन महिलाओं को डिलीवरी प्रोडक्ट का सेवन करना संभव नहीं है उन महिलाओं ने अपने भोजन में मसूर की दाल, मटर, सोयाबीन, मूंगफली, ग्वार, चने इन चीजों का सेवन करना ही चाहिए | क्योंकि यह सारी चीजें प्रोटीन और विटामिन से भरपूर होती है, अगर आपके शरीर का ठीक तरह से विकास नहीं होगा तो आपके बच्चे का भी विकास नहीं होता है |
  • महिलाओं को पता नहीं होता है कि प्रेगनेंसी में महिलाओं के शरीर को आमतौर पर जितनी एनर्जी लगती है उससे कई गुना ज्यादा एनर्जी बच्चे के विकास के लिए लगती है | डेयरी प्रोडक्ट में आयरन, मैग्नीशियम, पोटेशियम उच्च मात्रा में पाए जाते हैं, विटामिन ए के लिए शकरकंद का सेवन महिलाओं ने करना चाहिए |
  • विटामिन ए महिलाओं की थकान कम करने के लिए सही होता है, कई बार महिलाएं प्रेगनेंसी के दौरान डेयरी प्रोडक्ट खाना पसंद नहीं करती है, बल्कि महिलाओं को लगता है कि हम रोजाना अंडे खाएंगे | दोस्तों आप प्रेगनेंसी के दौरान अंडे खा सकती हो, लेकिन ज्यादा मात्रा में अंडे का सेवन ना करें क्योंकि अंडे पाचन तंत्र के लिए गर्म होते हैं |
  • अगर आप किसी डॉक्टर से पूछोगे कि प्रेगनेंसी के दौरान डेयरी प्रोडक्ट करना चाहिए या मांसाहारी खाना चाहिए | डॉक्टर भी आपको प्रेगनेंसी में डेयरी प्रोडक्ट का सेवन करने के लिए कहेंगे |

यह थी प्रेगनेंसी में क्या खाएं और प्रेगनेंसी में क्या न खाए के बारे में जानकारी, अगर आपको हमें कोई सवाल पूछना है तो आप नीचे दिए गए हुए कमेंट बॉक्स में हमें पूछ सकते हो |

कमर दर्द का घरेलू इलाज कैसे करे 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *