पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज

पेट दर्द के कारण

पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज बताने वाले हैं | बहुत सारे लोगों को पेट दर्द की समस्या हमेशा होती रहती है, बहुत सारे लोग तो पेट में दर्द होने के कारण हमेशा तनाव में रहते हैं | दोस्तों अगर आपको भी पेट दर्द होने की समस्या है तो जल्द से जल्द आपने पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज अपना कर पेट दर्द पर इलाज करना चाहिए |

पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज
पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज

पेट दर्द होने से मनुष्य को किसी काम में मन नहीं लगता है, बहुत सारे लोगों को पेट में तेज दर्द होने लगता है, जब किसी व्यक्ति को पेट में तीव्र दर्द होता है तब वह व्यक्ति बहुत ही बेचैन हो जाता है, अक्सर हम देखते हैं कि उम्र से बड़े बड़े लोगों के पेट में जब दर्द होने होता है तब वह रो देते हैं | दोस्तों इसका मतलब ऐसा नहीं है कि उम्र से बड़े लोगों ने रोना नहीं चाहिए, पेट में जब तीव्र दर्द होने लगता है तब मनुष्य को बहुत ज्यादा दर्द होता है |

loading...

इस दर्द के कारण ही मनुष्य ऑटोमेटिक रोने लगता है, कई बार लोगों को पेट में हल्के दर्द से लेकर अचानक से तेज दर्द हो सकता है | इस समस्या को अगर आप जल्द से जल्द हल नहीं करोगे तो आपको पेट की अन्य बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है | पेट में दो से तीन हिस्से पडते हैं जिसमें ऊपरी हिस्सा, बायां हिस्सा, और निचला हिस्सा यह तीनों हिस्से ज्यादा महत्वपूर्ण होते हैं, दाएं और बाएं हिस्से में मनुष्य के किडनी और पैंक्रियास होते हैं | यह सारे महत्वपूर्ण अंग पेट में ही होते हैं जिसके कारण आपने कभी भी पेट में दर्द होने पर नजर अंदाज नहीं करना चाहिए | आज हम देखेंगे पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज के बारे में जानकारी |

पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज -:

पेट दर्द के प्रकार कौन से है -:

पेट दर्द के प्रकार कौन से है
पेट दर्द के प्रकार कौन से है
  • देखा जाए तो पेट में दर्द होने के मुख्य चार प्रकार होते हैं, जिसमें सामान्य पेट दर्द, स्थानीय पेट दर्द, ऐंठन पेट दर्द, पेप्टिक पेट दर्द, यह चारों प्रकार का पेट दर्द सामान्य रूप से होता है | देखा जाए तो जब किसी व्यक्ति को सामान्य पेट दर्द होता है तब मनुष्य के पेट के आधे से ज्यादा हिस्से में बहुत ज्यादा दर्द होने लगता है, सामान्य पेट दर्द अलग अलग बीमारियों से भी हो सकता है |
  • कई बार हम देखते हैं कि सामान्य पेट दर्द पर अगर हमने उपचार भी नहीं किया तो भी यह दर्द आसानी से ठीक हो जाता है, कई बार अपचन और पेट की समस्याओं के कारण ही सामान्य पेट दर्द होता है | सामान्य पेट दर्द होने पर आपने ज्यादा भारी चीजों को उठाना नहीं चाहिए |
  • सामान्य पेट दर्द के बाद स्थानीय पेट दर्द हम देखेंगे, स्थानीय पेट दर्द पेट के एक हिस्से में होता है | अचानक जब किसी व्यक्ति के पेट में दर्द होता है तब इसे स्थानीय दर्द कहा जाता है, स्थानीय दर्द बहुत ही गंभीर होता है |
  • बहुत सारे लोग स्थानीय पेट दर्द होने पर रोने लगते हैं, क्योंकि उनके पेट में बहुत ज्यादा ऐंठन और दर्द होने लगता हें | स्थानीय पेट दर्द पर अगर आप वक्त पर इलाज नहीं करोगे तो यह पेटदर्द धीरे-धीरे अधिक गंभीर होता जाता है, कई बार स्थानीय पेट दर्द के कारण  पेट में सूजन भी आ सकती है |
  • क्रेंपिंग पेट दर्द एक प्रकार का दर्द है जो मनुष्य को थोड़े थोड़े दिनों के बाद आता जाता रहता है, यह दर्द गंभीरता में हमेशा बदलता रहता है \ यह पेट दर्द कभी सामान्य रहता है तो कभी बहुत तेज हो जाता है |
  • कई बार क्रेंपिंग पेट दर्द २४ घंटे के अंदर अंदर ठीक हो जाता है, जिन महिलाओं को पीरियड्स आती है उन महिलाओं को क्रेंपिंग पेट दर्द का सामना करना पड़ता है | क्रिंपिंग पेट दर्द प्राकृतिक होने के कारण ज्यादा चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है |

पेट दर्द के कारण -:

पेट दर्द के कारण
पेट दर्द के कारण
  • देखा गया तो पेट दर्द के कई कारण होते हैं, अब हम देखेंगे पेट दर्द के कुछ प्रमुख कारण | इन कारणों को जानने के बाद आपको समझ जाएगा कि पेट दर्द क्यों होता है, बहुत सारे लोगों को खाना खाने के बाद पेट दर्द होता है | अगर पेट में का खाना डाइजेस्ट नहीं होता है तो भी पेट तेज दर्द होने लगता है, कई बार पेट में कब्ज होने के कारण भी पेट में दर्द होता है |
  • कब्ज डाइजेशन ना होने पर ही होते हैं, इसलिए आपने हमेशा पेट में का खाना डाइजेस्ट होने देना चाहिए | बहुत सारे लोग पेट में का खाना डाइजेस्ट होने पर किसी प्रकार का ध्यान नहीं देते हैं, दोस्तों खाना खाने के बाद आपने तुरंत सोना नहीं चाहिए |
  • खाना खाने के बाद आपने थोड़ी देर कहीं बाहर घूमने जाना चाहिए, जिससे आपके पेट में का खाना धीरे-धीरे डाइजेस्ट होने लगता है | बहुत सारे लोगों को पेट का फ्लू भी होता है, जिसके कारण अपेंडिसाइटिस का प्रॉब्लम होकर मनुष्य का पेट दुखने लगता हें |
  • बहुत सारे लोगों को खाना खाने के बाद फ़ूड पोइसोनिंग होता है,अगर आपके भी पेट में फूड पॉइजनिंग होता है तो पेट बहुत ही तेज दर्द होने लगता है | फूड पॉइजनिंग ना होने के लिए आपने हमेशा प्राकृतिक चीजों का सेवन करना चाहिए, बहुत सारे लोगों को आर्टिफिशियल खाना खाने की आदत होती है, इस आधुनिक जीवन में कलर डालकर खाना पकाया जाता है जिसके कारण भी पेट में तेजी से दर्द होता है |
  • फूड पॉइजनिंग के बावजूद भी पेट में फूड एलर्जी हो जाती है, फूड एलर्जी हो जाने के कारण हम जो भी चीजें खाते हैं वह डाइजेस्ट नहीं हो पाती है | पीरियड्स के वक्त महिलाओं को ज्यादा पेट में दर्द होता है इसलिए महिलाओं ने हमेशा अपनी पेल्विक क्षेत्र की हड्डी को मजबूत रखना चाहिए, इन सारे कारणों के अलावा हर्निया, पित्ताशय की पथरी, अल्सर, यह सारे पेट में दर्द होने के कारण हें |

पेट दर्द का इलाज क्या है -:

पेट दर्द का इलाज क्या है
पेट दर्द का इलाज क्या है
  • अगर आपको लगता है कि आपके पेट में दर्द नहीं होना चाहिए तो आपने आपके खाने-पीने के आदतों को बदलना चाहिए | बहुत सारे लोगों को जल्दबाजी में खाना खाने की आदत होती है, दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं कि सबसे पहले आपने खाना खाने कि गति को कम करना चाहिए, खाने की गति को कम करने से आपके पेट में भोजन का डाइजेशन ठीक तरह से हो पाता है |
  • अगर आप किसी भी चीज को जल्दबाजी में खाते हो तो इससे आपके पेट में डाइजेशन नहीं होता है, पेट में डाइजेशन ना होने के कारण आपको गैस की प्रॉब्लम होने की संभावना होती है | बहुत सारे लोगों को भोजन के बीच के वक्त में पेट दर्द होता है, दोस्तों अगर आपको भी यह समस्या है तो आपने खाने के वक्त में थोड़ा वक्त का अंतर डालना चाहिए |
  • पेट में दर्द ना होने के लिए आपने ज्यादा वसायुक्त और तले हुए पदार्थ नहीं खाने चाहिए, ज्यादा मसालेदार पदार्थों का सेवन करने से भी पेट में परेशानी हो सकती हें |
  • अगर आपके पेट में बहुत ही तेज दर्द होता है तो आपने आपके चिकित्सक से सलाह लेनी चाहिए, बहुत सारे लोगों को तो दूध से बनी हुई चीजों का सेवन करने के बाद पेट में दर्द होता है | बहुत सारे लोगों को दूध से बनी हुई चीजों से एलर्जी होती है जिसके कारण पेट में दर्द होता है |
  • दोस्तों खाना खाने के बाद आपने तुरंत पानी नहीं पीना चाहिए, बहुत सारे लोगों को आदत होती है कि वह खाना खाने के तुरंत बाद बहुत ज्यादा पानी पी लेते हैं |
  • दोस्तों बहुत ज्यादा पानी पीने से पेट की मांसपेशियों में खिंचाव पैदा होता है जिसके कारण भी पेट में दर्द होता है \ अगर आपको लगता है कि आपके पेट में ज्यादा दर्द नहीं होना चाहिए तो आपने ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए, ज्यादा पानी का सेवन करने से पेट की गतिविधि हमेशा ठीक रहती है | पानी पीने से पेट में जो भी जलन होती है वह कम होकर भोजन का पूरी तरह से डाइजेशन हो जाता है, इसलिए ज्यादा पानी का सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता हें |

पेट दर्द में क्या खाना चाहिए -:

पेट दर्द में क्या खाना चाहिए
पेट दर्द में क्या खाना चाहिए
  • अगर आपके पेट में बहुत ज्यादा दर्द होता है तो आपने इस वक्त में ज्यादा से ज्यादा केले का सेवन करना चाहिए | केले का सेवन करने से आपके शरीर को ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पोटेशियम मिलता है, शरीर में पोटेशियम की मात्रा ज्यादा रहने से पेट में जो भी बदलाव होते हैं वह जल्द से जल्द पेट से बाहर निकल जाते हैं |
  • पेट में जब दर्द होता है तब आपने आलू, चावल, ऐसे स्टार्च युक्त पदार्थों का ज्यादा सेवन करना चाहिए |
  • इन पदार्थों का सेवन करने से पाचन क्रिया तेज हो जाती है, अगर आप इन सब चीजों का सेवन करना नहीं चाहते हो तो आपने सुप पीना चाहिए |
  • सुप पीने से आपके शरीर को पूरी तरह से पानी मिलता है, जिसके कारण आपके पेट का दर्द बिल्कुल कम हो सकता हें | सूप पीने के साथ-साथ आपने पपीते का सेवन भी करना चाहिए, पपीते का सेवन करने से  पेट की पाचन क्रिया बिल्कुल स्वस्थ रहती है और शरीर के कब्ज लैट्रिन के मार्ग से बाहर निकल जाते हैं |
  • बहुत ज्यादा पेट में दर्द होने पर आपने अदरक का सेवन करना भी बहुत ही अच्छा होता है, अगर आप अदरक का सेवन करना नहीं चाहते हो तो आपने अदरक की चाय पीनी चाहिए जिससे आपको जल्द से जल्द फर्क नजर आएगा |

यह थे पेट दर्द के कारण लक्षण और इलाज | 

 

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *