Home » प्रेगनेंसी टिप्स » महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय

महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय

महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय

महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय बताने वाले हैं | हम देखते हैं कि शादी होने के बाद भी महिला को बच्चा नहीं हो पाता है, जिन कपल्स को शादी होने को दो-तीन साल हो जाते हैं उन कपल्स को अगर बच्चा पैदा नहीं होता है तो उन्हें बहुत ही गंदा महसूस होता है | इसलिए आज हम हमारे दोस्तों को महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय बताने वाले हैं, देखा जाए तो महिला प्रेग्नेंट ना होने के कारण बहुत सारे है | सबसे पहले हम आपको बताना चाहते हैं कि जल्द से जल्द प्रेग्नेंट होने के लिए महिलाओं को अपने पीरियड्स के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी होता है |

महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय
महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय

क्योंकि बहुत सारी महिलाएं हमेशा पूछते रहती है कि महिला पीरियड के कितने दिन बाद प्रेग्नेंट होती है, इसलिए महिलाओं को अपने ओवुलेशन के बारे में पूरी जानकारी होना जरूरी है | जिसके कारण महिला जल्द से जल्द प्रेग्नेंट बन सकती है, आज हम देखेंगे महिला के पेट में गर्भधारण के उपाय |

महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय -:

  1. बहुत सारी महिलाएं प्रेग्नेंट बनने के लिए दुआ टोटके टैबलेट और प्रेगनेंट होने की दवा का इस्तेमाल करती है | सबसे पहले हम आपको बताना चाहते हैं कि प्रेग्नेंट होने के लिए इन आर्टिफिशियल तरीकों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए | प्राकृतिक तरीके से अगर आप प्रेग्नेंट बनती हो तो आपके बच्चे का विकास ठीक तरह से होगा और आप दोनों की जान खतरे से बाहर रहेगी |
  2. महिला के पेट में गर्भ ठहरने के लिए महिला ने अपने पति के साथ पीरियड के समय सेक्स करना चाहिए | जिन महिलाओं के शरीर में पीरियड्स के वक्त गर्भ ठहरता है उन महिलाओं को प्रेग्नेंट होने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती है | इसलिए ओवुलेशन पीरियड कब शुरू होता है यह बात जानना चाहिए |
  3. महिला के शरीर में पीरियड्स के वक्त या पीरियड्स के ५ दिन पहले प्रजनन क्रिया बहुत ज्यादा होती है | इसलिए महिलाओं ने पीरियड्स के ५ दिन पहले या ओव्यूलेशन पीरियड में सेक्स करना चाहिए | ओवुलेशन पीरियड में सेक्स करते समय पुरुषों ने महिला के साथ सही सेक्स पोजीशन का इस्तेमाल करना चाहिए, प्रेग्नेंट होने की पोजीशन इस्तेमाल करने से पुरुष अपने पार्टनर के योनि में आसानी से वीर्य स्खलित कर पाते हैं |
  4. महिला के पेट में गर्भ ठहरने के लिए महिलाओं के साथ ऐसे वक़्त सेक्स करें जिस वक्त महिला के ओवरी से अंडा बाहर ना निकले | क्योंकि महिला के गर्भ से जब ओवरी बाहर निकलती है तब २४ से ३६ घंटे तक अंडा जीवित रह सकता है | इसलिए इस वक्त अगर आपके गर्भ में शुक्राणुओं के साथ प्रजनन क्रिया शुरू होती है तो आप आसानी से प्रेग्नेंट बन सकती हो |
  5. बच्चा पैदा करने के लिए महिला के शरीर का वजन संतुलित होना जरूरी होता है | महिलाओं के शरीर का वजन ज्यादा होना या वजन कम होना प्रेग्नेंट होने की संभावना को कम करता है | इसलिए वजन को हमेशा संतुलित रखने की कोशिश करें, जिन महिलाओं के शरीर पर चर्बी अधिक होती है उन महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन नहीं बनता है | शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन ना होने के कारण महिला प्रेग्नेंट नहीं हो पाती है |
  6. जिन महिलाओं के पीरियड्स ५ से ७ दिनों तक चलते हैं उस महिला के साथ तुरंत सेक्स करना चाहिए | जिससे महिला के शरीर में ब्लड सरकुलेशन उत्तेजित होता है और महिला प्रेग्नेंट होती ही है | पीरियड के बाद प्रेग्नेंट होने के लिए पुरुषों ने महिला के साथ सेक्स करने से पहले महिला को चरम सुख देना जरूरी होता है | जब तक महिला को चरम सुख प्राप्त नहीं होगा तब तक महिला पूरी तरह से सेक्स करने के लिए तैयार नहीं होगी | इन छोटी-छोटी बातों का अगर आप ध्यान रखते हो तो आसानी से महिला के पेट में गर्भ ठहर सकता है |

यह थे महिला के पेट में गर्भ ठहरने के उपाय | दोस्तों अगर आपको हमें प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण, दादी मां के घरेलू नुस्खे या प्रेग्नेंट होने की बाबा रामदेव पतंजलि दवा के बारे में कोई सवाल पूछना है तो आप हमें नीचे दिए गए हुए कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हो |

loading...

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *